एमपी बोर्ड की 10वीं का रिजल्ट जून और 12वीं का जुलाई में घोषित होगा

भोपाल. मध्य प्रदेश का माध्यमिक शिक्षा मंडल 10वीं बोर्ड रिजल्ट (Tenth Board Result) जून में घोषित करने की तैयारी कर रहा है. जून महीने के दूसरे हफ्ते में दसवीं कक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा. वहीं 12वीं बोर्ड का रिजल्ट (Twelve Board Result) जुलाई के महीने में घोषित किया जाएगा.

10वीं और 12वीं का रिजल्ट अलग-अलग होगा जारी

लॉक डाउन होने के चलते 10वीं और 12वीं के पेपर स्थगित हुए थे. दसवीं की स्थगित दो परीक्षाओं को निरस्त कर दिया गया है. वहीं कक्षा बारहवीं के स्थगित पेपर के लिए नई तारीखों का ऐलान किया गया है. दसवीं की कॉपियों का मूल्यांकन कार्य भी लगभग पूरा होने पूरा होने जा रहा है.

माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव का कहना है कि सारी तैयारियां पूरी होने के बाद जून के दूसरे हफ्ते यानी 14 से 15 जून तक दसवीं का रिजल्ट घोषित किया जा सकता है. कक्षा 12वीं का रिजल्ट जुलाई के महीने में घोषित किया जाएगा.

मध्य प्रदेश में ऐसा पहली बार हो रहा है जब दोनों कक्षाओं का रिजल्ट अलग-अलग जारी किया जाएगा. 10वीं और 12वीं के रिजल्ट में एक महीने या 15 दिन का अंतर रहेगा. इससे पहले दसवीं और बारहवीं का रिजल्ट एक साथ ही घोषित होता रहा है.

दसवीं के स्थगित पेपर किए गए निरस्त

दसवीं के दो स्थगित पेपर अब नहीं लिए जाने का फैसला हुआ है. दो विषयों की स्थगित परीक्षाओं के ना लिए जाने से रिजल्ट घोषित करने में आसानी होगी क्योंकि दसवीं की कॉपियों का पहले से मूल्यांकन कार्य शुरू हो चुका है. 21 मार्च को स्थगित हुई परीक्षा के विषय में यह फैसला लिया गया है कि अब वे स्थगित पेपर नहीं लिए जाएंगे.

मतलब यह कि जो परीक्षाएं रह गई थीं अब आयोजित नहीं की जाएंगी. दसवीं के जो पेपर हो चुके हैं उनकी परफॉर्मेंस यानी नंबर के आधार पर स्थगित विषयों में नंबर दे दिए जाएंगे और उनके नंबर के आधार पर ही रिजल्ट तैयार किया जाएगा. जो पेपर नहीं हो सके हैं उनके आगे पास लिखा जाएगा.

यह भी पढ़े- मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 10वींं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं को लेकर अब यह तय किया

12वीं की परीक्षाएं 9 जून से

कक्षा बारहवीं की स्थगित परीक्षाओं के के लिए नई तारीखों का ऐलान किया गया है. 9 जून से 16 जून तक कक्षा 12वीं की परीक्षा ली जाएंगी. प्रदेश भर में 3657 परीक्षा केंद्रों पर करीब साढ़े सात लाख से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल होंगे. माध्यमिक शिक्षा मंडल ने परीक्षार्थियों के लिए यह सुविधा भी दी है कि जो भी परीक्षार्थी लॉक डाउन में जिस जिले में रह रहा है वह वहीं से उन नए परीक्षा केंद्रों से परीक्षा दे सकेंगे…

बिजली बिलों की माफी के लिए अब हल्ला-बोल की तैयारी