सुशांत केस- मौत की मिस्ट्री सुलझाने मुंबई जाएंगे बिहार पुलिस के ये सुपर कॉप्स

बिहार पुलिस मुख्यालय सूत्रों की मानें तो सुशांत की मौत की उलझी गुत्थी को सुलझाने के लिए बिहार पुलिस के सुपर कॉर्प माने जाने वाले डीआइजी रैंक के अधिकारी को मुंबई भेजने पर विचार किया जा रहा है।

अभी तीन नामों पर चर्चा चल रही है, जिसमें मुंगेर डीआइजी मनु महाराज, एटीएस डीआइजी विकास वैभव और एसटीएफ डीआइजी विनय कुमार शामिल हैं। हालांकि, इस बार अधिकारी सड़क मार्ग से बकायदा सुरक्षा मानकों के पालन करने के साथ कूच करेंगे। उल्लेखनीय है कि ये तीनों बिहार के सुपर कॉर्प प्रदेश की बड़ी-बड़ी अनसुलझे क्राइम को सुलझा कर कई बड़े अपराधियों को सलाखों के पीछे भेज चुके हैं।

[adsforwp id=”57344″]

बिहार पुलिस में भारी नाराजगी 
उधर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या केस की जांच के लिए मुबंई पहुंचे पटना सिटी एसपी आईपीएस विनय तिवारी को क्वारंटाइन किए जाने से बिहार पुलिस में भारी नाराजगी है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि वह जांच के लिए सिलसिले में आधिकारिक तौर पर मुंबई पुलिस को सूचना देने के बाद वहां पहुंचे थे कोई चोरी-छुपे नहीं गए। क्वारंटाइन के लिए महाराष्ट्र सरकार ने जो नियम बना रखा है यह कार्रवाई उसके विरुद्ध प्रतीत होती है।

साथ आये बिहार पुलिस के बड़े अधिकारी 
इस मामले को लेकर बिहार पुलिस के डीजीपी ने पटना पुलिस का साथ दिया। उन्होंने कहा कि जानबूझकर उनकी एसआईटी की तलाश की जा रही है, ताकि जांच को प्रभावित किया जा सके। उनकी टीम एक जगह अंडरग्राउंड हो गई। इतनी परेशानी होने के बाद भी पटना पुलिस पूरी दृढ़ता के साथ मुंबई में अपना काम कर रही है। बिहार पुलिस के तमाम बड़े अफसर मुंबई पुलिस और बीएमसी के इस रवैये से नाराज दिखे।

जीजा ने दिवंगत अभिनेता को मैसेज कर कहा था- मेरी पत्नी को अपनी समस्याओं से दूर रखो