पुलवामा एनकाउंटर: हिजबुल के टॉप कमांडर कासिम जुगनू समेत 3 आतंकि ढेर

श्रीनगर
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में अवंतीपोरा के त्राल इलाके में स्थित चेवा उल्लार में गुरुवार रात से आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी है। इस दौरान तीन आतंकवादी मार गिराया गया है।

 

आतंकियों के छिपे होने कि सूचना मिलने के बाद से सुरक्षाबलों ने सर्च ऑपरेशन छेड़ा था। जैसे ही सुरक्षाबलों ने घेराबंदी सख्त करनी शुरू की, छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी, जिससे मुठभेड़ की शुरुआत हुई।

 

जम्मू-कश्मीर के अलग-अलग इलाकों में आतंकियों को मार गिराने का अभियान जारी है। इससे पहले जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले के सोपोर में गुरुवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुए मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारा गया। सूचना के आधार पर सेना, पुलिस और सीआरपीएफ की एक संयुक्त टीम ने रात के दौरान क्षेत्र में घेराबंदी की थी।

 

उल्‍लेखनीय है कि कश्मीर घाटी में सुरक्षाबलों ने पिछले एक साल के दौरान विभिन्न आतंकी संगठनों के छह टॉप कमांडरों समेत करीब 108 आतंकी मार गिराए गए हैं। इसके बावजूद घाटी में अभी 100 से 200 आतंकवादी सक्रिय बताए जा रहे हैं।

 

आइजीपी कश्मीर रेंज विजय कुमार ने बताया कि मारे गए टॉप कमांडर हिजबुल-मुजाहिदीन, लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और अंसार गजवातुल हिंद संगठन से थे। उनमें रियाज नाइकू, अब्दुल रहमान उर्फ फौजी भाई, जुबैर, कारी यासिर, जुनैद सेहरी, बुरहान कोका, हैदर और तैयब वालिद शामिल हैं।

 

उन्होंने कहा कि दक्षिण कश्मीर में आतंकवाद अब अंतिम सांस ले रहा है। हाल ही में सोपोर में सुरक्षाबलों ने लश्कर के आतंकी मॉड्यूल का पर्दाफाश किया है। इस दौरान आतंकियों के चार मददगार गिरफ्तार किए गए हैं।

अब बिना पैसे दिए बुक करें कंफर्म टिकट, जानिए कैसे होगी बुकिंग

इन सभी के खिलाफ संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है। पूछताछ में पता चला है कि ये सभी कई ऐप के जरिए आतंकियों के संपर्क में थे। साथ ही आतंकियों के लिए रेकी करते थे। पुलिस कई अहम पहलुओं पर जांच कर रही है। संभावना जताई जा रही है कि कई महत्वपूर्ण तथ्य सामने आ सकते हैं।

व्याघ्रासन : तनाव दूर कर एकाग्रता बढ़ाने में मददगार जानिए योग के और फायदे