70 बहनों का सामूहिक गर्भ संस्कार कराया गया

pregnancy rituals

24 कुंडीय गायत्री महायज्ञ में हजारों नगरवासियों ने सुगंधित जड़ी बूटियों से डाली आहूतियां

उज्जैन। अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज के तत्वावधान में लक्ष्मी नगर कालोनी में चल रहे 24 कुंडीय गायत्री महायज्ञ में दूसरे दिन सोमवार को हजारों नगर वासियों द्वारा यज्ञ कुंड में सुगंधित जड़ी बूटियों से आहुतियां समर्पित की। विशेष रूप से आंगनवाडी कार्यकर्ताओं के अथक प्रयास से 70 बहनों का सामूहिक गर्भ संस्कार (pregnancy rituals) शांतिकुंज की टोली द्वारा करवाया गया।

 

 गर्भ संस्कार (pregnancy rituals) के बारे में उर्मिला तोमर दी जानकारी

आओ गढ़े संस्कार वन पीढ़ी उप जोन समन्वयक उर्मिला तोमर द्वारा गर्भ संस्कार (pregnancy rituals) के बारे में गर्भवती बहनों के आहार विहार, ध्यान योग व्यायाम, दैनिक दिनचर्या, गर्भ संवाद, गर्भ का ज्ञान विज्ञान आदि विषयों पर विस्तृत रूप में प्रकाश डाला गया। डॉ इशिता शास्त्री द्वारा प्रोजेक्टर द्वारा गर्भ संस्कार के बारे में विशेष जानकारी दी गई।

मध्य जोन प्रभारी राजेश पटेल द्वारा संगठन की गरिमा पर प्रकाश डालते हुए नारी सशक्तिकरण के बारे में जानकारी दी गई। गायत्री परिवार द्वारा चलाए जा रहे शिक्षा अभियान के उप जोन समन्वयक कृष्ण शर्मा बाबूजी द्वारा अखंड दीप एवं वन्दनिया माताजी के जन्मशताब्दी वर्ष 2026 तक अनवरत चलने वाली गतिविधियों की जानकारी देते हुए अंशदान, समय दान, साधना के साथ जन जागरण यात्रा की विस्तृत जानकारी दी गई।

पुष्पेंद्र सिकरवार एवं दीक्षांत कावलेकर द्वारा शांतिकुंज की टोली एवं अतिथियों का गायत्री मंत्र दुपट्टा ओढ़ाकर सम्मान किया गया। ज्योति कुशवाह द्वारा सहयोग प्रदान किया गया। राजू बलेचा, गीता पाटीदार, ज्योति शर्मा, अशोक खींची, प्रकाश खींची, ज्योति कनाडे की टीम एवं माकड़ोंन से सुनीता शर्मा दीदी की टीम का यज्ञ शाला में अतुलनीय सहयोग प्रदान किया।

11 जनवरी अंतर्राष्ट्रीय ठहाका सम्मेलन में आएंगे फिल्म फुकरे के ‘चूचा’

आगनवाड़ी कार्यकर्ता बहनों का उर्मिला तोमर एवं आराधना सिकरवार द्वारा सम्मान किया गया। प्रवीण दुबे एवं विजय वर्मा द्वारा यज्ञ शाला निर्माण किया गया। शशिकांत शास्त्री, बाबूलाल बड़ोलिया, शंभुलाल प्रजापत द्वारा यज्ञ परिसर में पुस्तक मेला लगाया जा रहा है।

कार्यक्रम प्रभारी उर्मिला प्रह्लाद सिंह तोमर ने बताया कि आज 9 जनवरी को प्रातः 8 बजे से गायत्री महायज्ञ उसके पश्चात पूर्णाहूति, प्रसाद वितरण एवं तुलसी के पौधों का निःशुल्क वितरण किया जाएगा। यज्ञ स्थल पर गुरूवेय आचार्य श्रीराम शर्मा का साहित्य उपलब्ध रहेगा जिसे बतौर प्रसाद परिजन अपने घर अवश्य ले जाए।

इसी क्रम में 9 जनवरी तक प्रातः 7ः30 से प्रज्ञायोग का आयोजन भी रखा गया है। समस्त परिजनों एवं धर्मप्रेमी भाई / बहनों से अनुरोध किया है कि, उपर्युक्त सभी कार्यक्रमों में सपरिवार एवं इष्टमित्रों सहित उपस्थित होकर पुण्य लाभ अर्जित करें।

पटना हाईकोर्ट का फैसला: बुजुर्ग माता-पिता को देना होगा किराया