मरने से पहले मां को किया फोन और कही ये बात, फिर कार समेत गोमती नदी में लगा दी छलांग

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में एक युवक ने कार समेत गोमती नदी में छलांग लगा दी। परिजनों से इसकी सूचना पुलिस को दी। काफी मशक्कत के बाद गोताखोरों ने युवक का शव कार समेत बाहर निकाल लिया।

[adsforwp id=”57344″]

जौनपुर जिले के बक्शा थाना क्षेत्र के विशेषरपुर गांव स्थित गोमती नदी के छूंछा घाट पर शुक्रवार देर रात घर से नाराज युवक ने स्विफ्ट डिजायर कार समेत नदी में छलांग लगा दी। घटना से ठीक पहले युवक ने अपनी मां से बात की थी। इसके बाद परिजन रात में ही घाट पर पहुंच गए और पुलिस को सूचना दी।

 

सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के करंजाकला निवासी रामधनी के दो पुत्रों में सबसे छोटा पुत्र राजेश यादव उर्फ गोली(28) मुंबई में रहकर भाड़े पर कार चलाता था। लॉकडाउन के दौरान राजेश पत्नी व डेढ़ वर्ष के पुत्र के साथ कार से घर आया था। उसके बाद वह कार लेकर राजेश फिर मुंबई चला गया। चार दिन पहले वह उसी कार से फिर से मुंबई से घर आ गया

 

शुक्रवार रात करीब साढ़े 11 बजे घर पर किसी बात से नाराज राजेश कार लेकर छूंछा घाट गोमती पुल पर पहुंच गया और मां सोना देवी से नदी में कूदने की बात कहकर फोन काट दिया। इसकी खबर मिलते ही बड़ा भाई राकेश यादव छूंछा पुल पर पहुंच गया और सौ नंबर पर कॉल किया। इस दौरान बक्शा पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

 

पुलिस ने कार के नदी में जाने का निशान देख पुष्टि की। रात में गोताखोरों के न मिलने पर सुबह 6 बजे परिजन व पुलिस ने गोताखोर को बुलाकर नदी में जाल डलवाया। 4 घंटे बाद करीब चार सौ मीटर दूर कार और शव मिला। वाहन का शीशा तोड़कर शव बाहर निकाल लिया।

मामा ने साथ जाने इंकार करने पर भांजी की नहर में फेंक कर हत्या कर दी