loading...
Breaking News
Jaipur News: मरीज गायत्री मंत्र जपता रहा और डॉक्टर ने कर डाला ब्रेन ट्यूमर का ऑपरेशन

Brain tumor surgery: मरीज गायत्री मंत्र जपता रहा, डॉक्टर ने किया ब्रेन ट्यूमर का ऑपरेशन

Brain tumor surgery

जयपुर. राजधानी जयपुर (Jaipur) के एक निजी अस्पताल में एक मरीज का ब्रेन ट्युमर (Brain tumor surgery) का बेहद अनोखा ऑपरेशन (Unique surgery) किया गया है. इसकी खास बात यह है कि मरीज को बिना बेहोश किये उसका ऑपरेशन किया गया है. डॉक्टर ऑपरेशन करते रहे और मरीज गायत्री मंत्र का जाप करता रहा.

सर्जरी करीब चार घंटे चली. इसमें हाई एंड माइक्रोस्कोप का इस्तेमाल किया गया. इससे ब्रेन एरिया को बारीकी से देखने में मदद मिली. ऐसी सर्जरी देश में केवल चुनिंदा केन्द्रों पर ही की जा रही है.

डॉक्टर के अनुसार सेना से रिटायर्ड हवलदार 57 साल के रिड़मलराम को बार-बार मिर्गी के दौर आते थे. इसके कारण अस्थाई रूप से उनकी आवाज कुछ देर के लिए चली जाती थी. जांच में सामने आया कि उन्हें ब्रेन ट्युमर था. ट्यूमर मरीज के दिमाग के उस हिस्से में था जहां से बोली और शरीर की मुख्य गतिविधियां नियंत्रित होती है.

Brain tumor surgery से मरीज की बोलने की क्षमता जा सकती थी और लकवा होने का भी खतरा था. सर्जरी के दौरान छोटी सी गलती भी हो जाने पर मरीज बोलने की क्षमता खो सकता था. इसलिये उसे बिना बेहोश किये गये उसकी सर्जरी की गई. सर्जरी के दौरान मरीज को बार-बार अपनी उंगलियां और पैर आदि को हिलाने के निर्देश दिए गए.

ऑपरेशन के दौरान मरीज को अखबार भी पढ़ाया गया
न्यूरो सर्जन डॉ. के.के बंसल ने बताया कि सामान्य सर्जरी में मरीज को बेहोश कर दिया जाता है. लेकिन इस केस में एक छोटी सी गलती से मरीज की आवाज हमेशा के लिए जाने का खतरा था. इसलिए इसमें मरीज को गायत्री मंत्र का जाप करने और अपने उंगलियों को हिलाने के लिए कहा जाता रहा.

Health Tips: कपूर बदल सकता है आपकी जिंदगी, जानिए इसके चमत्कारी गुण

उसकी तुरंत प्रतिक्रिया से सर्जरी को सुरक्षित रूप से अंजाम देने में सहायता मिली. ऑपरेशन के दौरान मरीज को अखबार भी पढ़ाया गया. न्यूरो सर्जन डॉ. के के बंसल साल 2018 में भी इसी तरह की जटिल सर्जरी कर चुके हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट्स से मांगा जवाब- रद्द हो चुके 66a के तहत कैसे दर्ज हो रहे मामले?

Source link