उज्जैन की संस्था विद्यांजलि भारत मंच का 8वां वार्षिक आयोजन संपन्न, वरिष्ठ एवं प्रतिभाएं हुई सम्मानित

उज्जैन

उज्जैन। ललिता महात्रिपुर सुंदरी शक्तिपीठ नृसिंह घाट उज्जैन पर “महारथी विराट कवि सम्मेलन, वेबसाइट विमोचन एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम संरक्षक गुरुदेव आचार्य उमेश शर्मा महाराज, विशेष अतिथि स्वामी मुस्कुराके के विशेष आतिथ्य में ओजस्वी युवा कवियों का बहतरीन काव्यपाठ हुआ एवं सम्मान प्राप्त किया।

कार्यक्रम का शुभारंभ गुरुकुल के नन्हे बटुकों के वैदिक मत्रोच्चार द्वारा हुआ। दो सत्र में आयोजित इस भव्य आयोजन के अंतर्गत वर्ष 2023 के कुल 27 सम्मान संस्था द्वारा प्रदान किये गए जिसमें वरिष्ठ साहित्यकार हेमंत श्रीमाल, हरेराम वाजपई, प्रदीप नवीन को धरोहर सम्मान 2023, वरिष्ठ साहित्यकार देवकृष्ण व्यास,

गिरेन्द्र सिंह भदौरिया, मीरा जैन को साहित्य गौरव सम्मान 2023, श्रेष्ठ सम्पादन एवं सक्रिय लेखन हेतु संदीप सृजन, विनीत शुक्ला को कर्मयोगी सम्मान 2023, प्रदेश की पहली महिला चालकों में ऋतू नरवाले, निशा शर्मा, मुस्कान बोरासी को सारथी सम्मान 2023, मानसेवा हेतु हेतु दिनेश श्रीवास्तव,

संगीतकला हेतु श्रद्धा जगताप, नृत्यकला हेतु अवनि शर्मा, गौसेवा हेतु सोनाली पंवार, नारी परमेश्वरी पुस्तक हेतु कमलेश परदेशी को संस्था का प्रचलित महारथी सम्मान 2023 प्रदान किया गया। प्रथम सत्र में उक्त गतिविधियों का श्रेष्ठ संचालन कवि अवनीश पाठक सूर्य ने किया।

भव्य आयोजन के अंतर्गत श्रेष्ठ काव्यपाठ हेतु पधारे कवियों में नितेश व्यास भोपाल, मौसम कुमरावत सनावद, समर्थ भावसार उज्जैन, रिया मोरे इंदौर, पंकज प्रखर सिंघाणा, मीमांशा भार्गव उज्जैन, अमन शशांक उत्तरप्रदेश, रुद्रांश राव अनुज गौतमपुरा शामिल हुए जिन्हें संस्था द्वारा “महारथी सम्मान 2023“ प्रदान किया गया। द्वितीय सत्र में श्रेष्ठ संचालन एवं काव्यपाठ कवि अमित चौहान “अभ्यंकर“ इंदौर ने किया।

संस्था विद्यांजलि भारत मंच उज्जैन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सूत्रधार दामोदर विरमाल ने बताया कि कार्यक्रम के विशेष सहयोगी के रूप में कवि प्रशांत व्यास रूद्र, कवि विवेक दुबे रहें एवं मिडिया कवरेज प्रभार रविभूषण श्रीवास्तव ने संभाला।

कार्यक्रम में कवि सुनील सिपाही, कवि राहुल बजरंगी, कवि पंकज प्रजापत, कवि श्रींकांत सरल, समीक्षा स्पीक उज्जैन सहित उज्जैन इंदौर के कई वरिष्ठ साहित्यकार एवं सुधि श्रोतागण एकत्रित हुए। आयोजन के मध्य संस्था विद्यांजलि भारत मंच की वेबसाइट एवं कमलेश परदेशी की पुस्तक (नारी परमेश्वरी) का विमोचन हुआ। अंत में संयोजक प्रशांत व्यास ने आभार व्यक्त किया।

छात्राओं से बोला बीज निगम का अफसर- नौकरी चाहिए तो साथ में बितानी होगी रात